Loading

Archive

Category: गतिविधियां

286 posts

होली मिलन पर रंगारंग कार्यक्रम

होली मिलन पर रंगारंग कार्यक्रम


होली के  पवित्र पर्व पर बाराबंकी नगर के नागेश्वर नाथ मंदिर में आयोजित होली मिलन समारोह  में नगरवासियों के साथ भाग लिया. कार्यक्रम के दौरान एक दूसरे को होली की बधाई दी। इस बीच सांस्कृतिक कार्यक्रम में प्रतिष्ठित कलाकारों ने लोकगीत, नृत्य व फगुवा राग से कार्यक्रम में समां बांध दिया।

होली मिलन

होली मिलन


आज होली का पावन पर्व बड़ी धूमधाम से मनाया गया. रंगों के इस त्योहार पर लोग गिले शिकवे भूल कर आपस में एक दूसरे से मिलने पहुँचे. बहुत से प्रियजनो का मेरे घर भी होली की शुभ कामनाओं के आदान प्रदान के लिए दिनभर ताँता लगा रहा.
होली हृदय में उत्साह और उमंग की ऊर्जा देती है

होली की पूर्व संध्या हनुमान दर्शन और सभी को रंग पर्व की बधाई

होली की पूर्व संध्या हनुमान दर्शन और सभी को रंग पर्व की बधाई

 

होली के पावन पर्व की पूर्व संध्या पर बाराबंकी नगर के धनोखर चैराहा स्थित हनुमान मंदिर में बजरंगबली की आरती व  पूजा-अर्चना कर बाराबंकी जनपदवासियों के लिए सुखसमृद्धि की कामना की। इस दौरान उपस्थित व्यापारियों व  दुकानदारों का हालचाल लिया। जनपदवासियों को होली की शुभकामनाऐं दीं.

श्री लोधेश्वर महादेव मन्दिर पर नवीन सुविधाओं का शुभ आरम्भ

श्री लोधेश्वर महादेव मन्दिर पर नवीन सुविधाओं का शुभ आरम्भ

देश के पर्यटनस्थलो और आध्यात्मिक महत्व के स्थानो पर तीर्थ यात्रियों का आना जाना और दर्शन करना सुलभ हो सके इसके लिये भारत सरकार ने बाराबंकी के मंदिरों का जीर्णोद्धार करवाकर उन्हें मूलभूत सुविधाओं से सुसज्जित किया है. इसी के अंतर्गत 56 लाख की लागत से तहसील रामनगर के श्री लोधेश्वर महादेव मन्दिर में हुए विकास कार्यों जैसे शौचालय,रेन शल्टर और सोलर लाइट का आज लोकार्पण  किया।अब इस महत्वपूर्ण मंदिर में आने वालों को सुविधा होगी.

कोटवाधाम मंदिर में श्रद्धालुओं के लिए नवीन सुविधाओं का लोकार्पण

कोटवाधाम मंदिर में श्रद्धालुओं के लिए नवीन सुविधाओं का लोकार्पण

पर्यटन विभाग द्वारा बाराबंकी के महत्वपूर्ण मंदिरों में बड़े स्तर पर विकास कार्य किया गया है. सुंदरीकरण सहित तमाम क़ार्य सम्पन्न हो चुके हैं. कोटवाधाम मंदिर में श्रद्धालुओं के लिए नवीन सुविधाओं का लोकार्पण आज किया जिसके तहत सिरौलीगौसपुर तहसील के इस कोटवाधाम मंदिर का रेन शेल्टर,शौचालय, बेन्चस, साइनेज बोर्ड,आदि का निर्माण किया गया है. इससे यहाँ आने वाले श्रद्धालुओं को सुविधा होगी.


विद्युत उप केंद्र कोटवाधाम और सिधौर का लोकार्पण

विद्युत उप केंद्र कोटवाधाम और सिधौर का लोकार्पण

बाराबंकी के सभी मजरों और इच्छुक घरों के विद्युतीकरण का कार्य पूर्ण हो चुका है साथ ही जिस विद्युत विकास कार्य के तहत प्रदेश के एक लाख इक्कीस हज़ार मज़रे और छियानबे लाख घर विद्युतीकृत हो गए हैं. आज कोटवाधाम और सिधौर विद्युत उप केंद्र का लोकार्पण किया. इन सुविधाओं से क्षेत्र के घरों को बेहतर विद्युत आपूर्ति हो सकेगी. ढाई करोड़ की लागत से सिरोलीगौसपुर स्थित कोटवाधाम विद्युत उप केंद्र का निर्माण हुआ है जिससे लगभग सत्तर गाँव लाभान्वित होंगे.


पर्यटन स्थल टीकाराम तपोस्थली पर नई सुविधाओं का उद्घाटन

पर्यटन स्थल टीकाराम तपोस्थली पर नई सुविधाओं का उद्घाटन

पयर्टन मंत्रालय भारत सरकार की स्वदेश दर्शन योजना के अन्तर्गत जनपद बाराबंकी के अति प्राचीन मंदिरों के जीणोद्धार एवं सौन्दर्यीकरण के तहत टीकाराम तपोस्थली में घाट , चेंज़िंग रूम, शौचालय निर्माण, रैन बसेरा, बाउण्ड्रीवाल, प्रकाश व्यवस्था हेतु सोलर लाइट तथा पाथवे के निर्माण कार्य सम्पन्न कराये गये जिसका आज उद्घाटन किया. इस परियोजना का लोकार्पण कर आमजनमानस एवं श्रद्धालुओं के लिए समर्पित कर दिया। इस बीच उपस्थित श्रद्धालुओं एवं ग्रामीणों के साथ में पूजा कर आर्शीवाद लिया।

अवसानेश्वर मंदिर में श्रद्धालुओं के लिए बेहतर सुविधाओं का लोकार्पण

अवसानेश्वर मंदिर में श्रद्धालुओं के लिए बेहतर सुविधाओं का लोकार्पण

अवसानेश्वर मंदिर में श्रद्धालुओं के लिए बेहतर सुविधाओं का लोकार्पण किया जिसके अंतर्गत मंदिर का सुंदरीकरण, शौचालय निर्माण और सोलर लाइट की स्थापना आदि शामिल हैं. इसके उपरांत मंदिर मे पूजा अर्चना कर आशीर्वाद लिया. वहाँ उपस्थित लोगों को सरकार की योजनाओं के बारे मे बताया और क्षेत्रीय विकास की जानकारी दी.

नवनिर्मित विद्युत उपकेन्द्र सतरिख की शुरुआत

नवनिर्मित विद्युत उपकेन्द्र सतरिख की शुरुआत

नवनिर्मित विद्युत उपकेन्द्र सतरिख का शुभारम्भ किया.

इस नई सुविधा के उपरांत स्थानीय निवासियों को बेहतर विद्युत आपूर्ति की जा सकेगी. बहुत से घर बिजली की सुविधा हासिल कर पाएँगे यही भाजपा सरकार का मूल उद्देश्य है जो सबका साथ सबका विकास के मूलमंत्र पर कार्य कर रही है.हर क्षेत्र में सरकार की विकास नीतियों से मृत परियोजनाओं को गति प्राप्त हो रही है।